.

Mukhyamantri Krishak Sathi Yojana : किसानों को मिलेंगे 2 लाख रुपए; पूरी जानकारी यहां देखें

Mukhyamantri Krishak Sathi Yojana

Mukhyamantri Krishak Sathi Yojana : राजस्थान राज्य में रहने वाले हर किसान को अलग-अलग सुविधाएं मिलती हैं। ऐसे में उन सभी किसानों को खेती करने में कई समस्याएं सामने आईं। ऐसे में सरकार ने उनके लिए कई योजनाएं बनाई हैं। यही कारण है कि इस कार्यक्रम का नाम राजस्थान कृषक साथी योजना है। राजस्थान राज्य में किसानों को खेती के दौरान कोई दुर्घटना होने पर इस योजना से आर्थिक सहायता दी जाती है। योजना का लाभ उठाने के लिए कोई भी किसान आवेदन कर सकता है। सभी किसानों को इसके लिए अधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन फॉर्म भरना होगा।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Mukhyamantri Krishak Sathi Yojana

राजस्थान सरकार ने राजस्थान के किसानों के लिए मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना शुरू की है। इस योजना के माध्यम से राजस्थान राज्य के सभी किसानों को कृषि कार्य करते समय मृत्यु या विकलांगता का सामना करना पड़ता है। खेती के दौरान कोई दुर्घटना होने पर किसानों को इस योजना से आर्थिक सहायता दी जाएगी। इस योजना के तहत उन सभी किसानों को ₹5000 से ₹200000 तक की आर्थिक सहायता दी जाती है।

Mukhyamantri Krishak Sathi Yojana Objective

मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना का मुख्य लक्ष्य राजस्थान राज्य में रहने वाले सभी किसानों को खेती में रोजाना काम करना है। ऐसे उन सभी किसानों को खेती में काम करते समय किसी भी समस्या का समाधान मिलेगा। जैसे कोई बड़ी दुर्घटना उनके साथ होती है। तो ऐसी स्थिति में सरकार प्रत्येक किसान को इस योजना के तहत धन देगी।

Free Mobile Yojana 2024

Mukhyamantri Krishak Sathi Yojana Benefits

  • राजस्थान सरकार मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना को चलाती है।
  • कृषक को खेती के दौरान किसी भी प्रकार का हादसा होने पर सरकार ₹200000 का अधिकतम लाभ देती है।
  • अगर किसी कृषक की मृत्यु हो जाती है, तो उसके परिवार को लाभ मिलता है।
  • विकलांग स्थिति में किसानों को भी लाभ मिलता है।
  • दुर्घटना के छह महीने तक आवेदन पत्र भरने वाले किसानों को योजना का लाभ मिलेगा।
  • सरकार ने इस योजना को सफलतापूर्वक लागू करने के लिए दो हजार करोड़ रुपये का निवेश किया है।

Mukhyamantri Krishak Sathi Yojana Eligibility

  • इस योजना में शामिल होने के लिए केवल राजस्थान का स्थाई निवासी किसान पंजीकृत हो सकता है।
  • यदि किसान इस योजना से लाभ प्राप्त करने वाले व्यक्ति की मृत्यु होती है, तो पंजीकृत व्यक्ति पति-पत्नी, बालक या बालिका होना चाहिए।
  • मृत्यु या अस्थायी विकलांग व्यक्ति की आयु पांच से सत्तर वर्ष के बीच होनी चाहिए।
  • इस योजना के माध्यम से जन्मजात विकलांग या मृत्यु का कारण होना चाहिए।
  • इस योजना का फायदा प्राकृतिक मौत या आत्महत्या में नहीं होगा।
  • आवेदक को दुर्घटना के छह महीने के भीतर संबंधित जिला कृषि अधिकारी के कार्यालय में आवेदन करना होगा।

Mukhyamantri Krishak Sathi Yojana Documents

  • आधार कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • पहचान पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल ID
  • फोटो
  • बैंक खाता

PM Ujjwala LPG Subsidy Rupees 300 Extend

Mukhyamantri Krishak Sathi Yojana Apply Online

  • मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना के लिए आवेदन करने के लिए आपको पहले अपने निकटतम कृषि विभाग में जाना होगा।
  • नजदीकी कृषि विभाग में जाने के बाद आपको इस योजना का आवेदन फॉर्म मिलेगा।
  • Application Form प्राप्त करने के बाद इसे ध्यानपूर्वक भरना चाहिए।
  • इसके बाद, फॉर्म भरकर आवश्यक दस्तावेजों की पर्ची को कृषि विभाग में जमा करना होगा।
  • आपका आवेदन फार्म सरकारी अधिकारियों द्वारा जांच किया जाएगा।
  • यदि सब कुछ सही पाया जाता है, तो आप मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना का लाभ प्राप्त करेंगे।

Conclusion

राजस्थान सरकार द्वारा प्रस्तुत की गई मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना ने राजस्थान के किसानों के लिए एक महत्वपूर्ण कदम साबित होने का वादा किया है। यह योजना न केवल कृषकों को आर्थिक सहायता प्रदान करने के माध्यम से उनकी सुरक्षा को बढ़ावा देगी, बल्कि उन्हें खेती के दौरान किसी भी प्रकार के अनियांत्रित हादसे के मामले में भी सहायता प्रदान करेगी। इस योजना के लागू होने से किसानों का सामाजिक और आर्थिक दृष्टिकोण सुधारेगा और उन्हें अपनी खेती में सुरक्षित महसूस करने में मदद मिलेगी।

Leave a Comment