WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Mukhyamantri Lakhpati Didi Yojana 2024 : महिलाओं को मिलेगा 5 लाख रुपए तक का लोन, जानिए पूरी ख़बर

Mukhyamantri Lakhpati Didi Yojana

Mukhyamantri Lakhpati Didi Yojana : यदि आप एक महिला है और लखपति बनना चाहती है, तो हमारा यह आर्टिकल आपके लिए है। सरकार के द्वारा एक ऐसी योजना की शुरुआत की गई है, जिसके तहत महिलाओं को लखपति बनने का मौका दिया जा रहा है। जी हां, दरअसल उत्तराखंड राज्य सरकार ने एक ऐसी ही योजना शुरुआत की है जिसका नाम है- “लखपति दीदी योजना”। इस योजना में लाभार्थी महिला को सरकार 5 लाख रुपए तक का लोन दे रही है।

यह लोन बिना किसी ब्याज के महिलाओं को मिलेगा। अब आपके मन में यह सवाल उठ रहा होगा कि इस योजना का लाभ किन-किन महिलाओं को मिलेगा और कैसे मिलेगा। तो इन सारे सवालों के जवाब पाने के लिए आपको हमारे इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ना होगा। इस आर्टिकल में हमने आपको लखपति दीदी योजना से संबंधित संपूर्ण जानकारी दी है। बीते स्वतंत्रता दिवस समारोह के दौरान भारत के प्रधानमंत्री श्रीमान नरेंद्र मोदी जी ने इस योजना के तहत महिलाओं को कौशल प्रशिक्षण देने की बात भी कही है। आज का हमारा यह आर्टिकल बहुत ही ज्यादा खास होने वाला है इसलिए इसे अंत तक जरूर पढ़ें।

Mukhyamantri Lakhpati Didi Yojana

योजना का नामलखपति दीदी योजना
राज्यउत्तराखंड
शुरू की गईमुख्यमंत्री श्रीमान पुष्कर सिंह जी धामी के द्वारा
लाभ5 लाख रुपए तक का लोन
लाभार्थीउत्तराखंड राज्य की महिलाएं
आधिकारिक वेबसाइटजल्द ही
हेल्पलाइन नंबरजल्द ही

What is Mukhyamantri Lakhpati Didi Yojana

मुख्यमंत्री लखपति दीदी योजना की शुरुआत उत्तराखंड सरकार के द्वारा महिलाओं के लिए की गई है। इस योजना के अंतर्गत महिलाओं को स्वयं का बिजनेस शुरू करने के लिए सरकार द्वारा लोन प्रदान किया जाता है। यह लोन 5 लाख रुपए तक का हो सकता है।

Launch of Mukhyamantri Lakhpati Didi Yojana

उत्तराखंड राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई लखपति दीदी योजना का शुभारंभ मुख्यमंत्री श्रीमान पुष्कर सिंह जी धामी ने 4 नवंबर 2023 को किया था। इस योजना को शुरू हुए लगभग 5 माह पूरे हो चुके हैं।

Mukhyamantri Lakhpati Didi Yojana Objective

लखपति दीदी योजना का मुख्य उद्देश्य है कि महिलाओं को आत्मनिर्भर और सशक्त बनाया जा सकें। इस योजना के माध्यम से महिलाओं को लखपति बनने का मौका दिया जा रहा है। इस योजना का लाभ विशेष तौर पर स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को मिलेगा। इसके अंतर्गत महिलाओं की सालाना आय को 1 लाख रुपए से ऊपर पहुंचा जाएगा। जिससे उनके जीवन स्तर में वृद्धि देखने को मिलेगी।

Mukhyamantri Lakhpati Didi Yojana Benefits

  • इस योजना के अंतर्गत महिलाओं को लखपति बनने का अवसर प्रदान किया जा रहा है। जिसके तहत महिलाओं को बिना किसी ब्याज के 5 लाख रुपए तक का लोन दिया जाएगा। इस लोन की राशि से महिलाएं स्वयं के व्यापार को आगे बढ़ा सकती है। इससे उनकी आय में भी वृद्धि होगी।
  • सरकार महिलाओं को लोन के साथ-साथ टेक्निकल मार्गदर्शन, उत्पादों की मार्केटिंग और ट्रेनिंग की सुविधा भी देगी।
  • व्यापार बढ़ाने से ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं के लिए रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। इससे ज्यादा से ज्यादा महिलाएं इस योजना से जुड़ेगी।
  • राज्य के ग्रामीण लोगों की आय में वृद्धि के साथ-साथ स्थानीय उत्पादों की खरीद भी बढ़ेगी और उन्हें बढ़ावा मिलेगा।
  • लाभ प्राप्त कर रही महिलाओं को देखकर अन्य महिलाएं प्रेरित होगी।

Mukhyamantri Lakhpati Didi Yojana Eligibility

इस योजना से संबंधित पात्रताएं इस प्रकार है-

  • इस योजना का लाभ लेने वाली महिला उत्तराखंड राज्य की स्थानीय निवासी होनी चाहिए।
  • यह योजना सिर्फ महिलाओं के लिए ही है।
  • इस योजना का लाभ ऐसी महिलाओं को दिया जाएगा जो स्वयं सहायता समूह से जुड़ी हुई हो।

Mukhyamantri Lakhpati Didi Yojana Required Documents

  • आधार कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता पासबुक
  • चालू मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

Mukhyamantri Lakhpati Didi Yojana Application

लखपति दीदी योजना में शामिल होकर इसका लाभ लेने वाली महिलाओं को अब थोड़ा सा इंतजार करने की जरूरत है। क्योंकि इसके लिए आवेदन शुरू करने की प्रक्रिया से संबंधित गाइडलाइन सरकार द्वारा अभी तक जारी नहीं की गई है। जैसे ही आवेदन की प्रक्रिया शुरू होगी, इसकी सूचना आपको हमारे द्वारा दे दी जाएगी।

Mukhyamantri Lakhpati Didi Yojana Helpline Number

इस योजना का शुभारंभ अभी तक नहीं किया गया है। इसलिए इस योजना से संबंधित हेल्पलाइन नंबर भी जारी नहीं किया गया है। इसके लिए आपको अभी थोड़ा सा और इंतजार करना होगा। जैसे ही इस योजना से संबंधित हेल्पलाइन नंबर सरकार के द्वारा जारी किया जाएगा, इसकी सूचना आपको हमारे द्वारा दे दी जाएगी।

Mukhyamantri Lakhpati Didi Yojana (Madhya Pradesh)

वर्तमान प्रधानमंत्री श्रीमान नरेंद्र मोदी जी का आत्मनिर्भर भारत बनाने का सपना अब साकार होते दिख रहा है। क्योंकि देश की महिलाएं तेजी से सशक्त और आत्मनिर्भर बनने की राह पर नजर आ रही है। इसका एक बेहतरीन उदाहरण मध्य प्रदेश के मऊगंज जिले से निकलकर आ रहा है। दरअसल, मध्य प्रदेश के मऊगंज जिले की 40 महिलाएं आत्मनिर्भर होकर लखपति बन गई है। मऊगंज जिले के भाठी गांव की रहने वाली ये महिलाएं गणवेश की सिलाई करके लखपति बन रही है।

जिसका निरीक्षण करने के लिए खुद जिला विधायक प्रदीप पटेल वहां पहुंचे। आपको बता दे की मध्य प्रदेश के मऊगंज जिले में स्थित भाठी गांव में जिला विधायक प्रदीप पटेल के निर्देशानुसार जन अभियान चलाया गया है। जिसके तहत भाठी गांव की स्वयं सहायता समूह चलने वाली महिलाओं को सिलाई मशीन प्रदान की गई थी। ताकि वे आत्मनिर्भर और सशक्त बन सके। विधायक प्रदीप पटेल की यह पहल महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देने और महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए है।

लखपति दीदी योजना से 2025 तक 1.25 लाख महिलाएं होगी लखपति

उत्तराखंड सरकार ने 1.25 लाख स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को 2025 तक लखपति बनाने का लक्ष्य निर्धारित किया है। हालांकि इस समूह में 3.67 लाख महिलाएं है। लेकिन वर्ष 2025 तक सवा लाख महिलाओं को इससे जोड़ने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। आपकी जानकारी के लिए बता दे की 2025 के नवंबर महीने में उत्तराखंड राज्य के एक अलग प्रदेश बनने के 25 साल पूर्ण हो जाएंगे।

प्रधानमंत्री श्रीमान नरेंद्र मोदी जी की अपील

देश के प्रधानमंत्री श्रीमान नरेंद्र मोदी ने कुछ दिनों पहले अपनी उत्तराखंड यात्रा के दौरान माणा गांव का दौरा किया था। इसके बाद मोदी जी ने चार धाम यात्रा के लिए जाने वाले श्रद्धालुओं से भी यह अपील की थी कि वे ज्यादा से ज्यादा स्थानीय उत्पादों को खरीदें। ताकि वहां के लोगों का व्यापार और आय दोनों ही बढ़ सके। साथ ही स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा मिल सकें।

प्रधानमंत्री मोदी जी 2 करोड़ महिलाओं को बनाएंगे लखपति

वर्तमान प्रधानमंत्री श्रीमान नरेंद्र मोदी ने 77वें स्वतंत्रता दिवस समारोह में अपने भाषण में लखपति दीदी योजना का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि महिलाएं सभी क्षेत्रों में आगे बढ़ रही है। ऐसे में इस योजना के तहत देश की कुल 2 करोड़ महिलाओं को कौशल विकास प्रशिक्षण देने का निर्णय लिया गया है। इसका उद्देश्य सूक्ष्म उद्यम शुरू करने के लिए महिलाओं को प्रोत्साहित करना है। प्रधानमंत्री का कहना है कि इस योजना का संचालन अभी कुछ राज्यों में किया जा रहा है। यह योजना अलग-अलग तरीके से महिलाओं को लाभ प्रदान कर रही है। अब केंद्र सरकार ने इसके तहत 2 करोड़ महिलाओं को प्रशिक्षित करने का निर्णय लिया है।

भाठी गांव की 40 महिलाएं बनी लखपति

मध्य प्रदेश के मऊगंज जिले में स्थित भाठी गांव की स्वयं सहायता समूह चलाने वाली 40 महिलाएं लखपति बन गई है। आपको बता दे की भाठी गांव की ये महिलाएं स्वयं सहायता समूह के रूप में एक छत के नीचे इकट्ठा होकर सिलाई कढ़ाई का काम करती है। यह समूह एकत्र होकर सरकारी स्कूलों के छात्रों को सरकार की तरफ से मिलने वाली गणवेश की सिलाई करती है। जिससे ये महिलाएं लाखों रुपए साल के काम रही है।

विधायक श्रीमान प्रदीप पटेल पहुंचे निरीक्षण करने

मऊगंज जिले के भाठी गांव की स्वयं सहायता समूह की महिलाएं तेजी से लखपति बनती जा रही है। इसका निरीक्षण करने स्थानीय विधायक श्रीमान प्रदीप पटेल पहुंचे। आपकी जानकारी के लिए बता दे की विधायक प्रदीप पटेल के निर्देश पर वहां जन अभियान चलाया गया था। इस जन अभियान के तहत स्वयं सहायता समूह संचालित करने वाली महिलाओं को सिलाई मशीन देखकर उन्हें आत्मनिर्भर और सशक्त बनाने का प्रयास किया गया था। विधायक प्रदीप पटेल ने भाठी गांव पहुंचकर इन महिलाओं की प्रशंसा की और उनका उत्साह भी बढ़ाया ।

प्रधानमंत्री श्रीमान नरेंद्र मोदी का आत्मनिर्भर भारत का सपना हो रहा साकार

भारत के प्रधानमंत्री श्रीमान नरेंद्र मोदी ने भारत को आत्मनिर्भर बनाने का जो सपना देखा था, वह अब साकार होते नजर आ रहा है। क्योंकि देश बहुत ही तेज गति से विकास कर रहा है। इस विकास की दौड़ में महिलाओं का योगदान उल्लेखनीय है। देश के विकास में महिलाएं अपना भरपूर सहयोग दे रही है। इसका एक उदाहरण भाठी गांव में देखा जा सकता है।

जहां स्वयं सहायता समूह चलने वाली महिलाएं सिलाई कढ़ाई करके लखपति बन रही है। हाल ही में इन सभी महिलाओं को 50,000 गणवेश बनाने का काम सौंपा गया है। यह 40 महिलाओं का एक समूह है, जो एक साथ मिलकर काम करता हैं। मध्य प्रदेश सरकार के द्वारा महिलाओं के अतिरिक्त बालिकाओं के लिए भी विशेष प्रयास किया जा रहे हैं।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment

×